मौसम विभाग का अलर्ट: दिल्ली- NCR व हरियाणा सहित इन राज्यों में होगी भारी बारिश

0

New Delhi News (ciymail news ) सावन के महीने को मानसून की बारिश के लिए जाना जाता है। लेकिन मानसून के जल्दी आने के बाद भी उत्तर भारत के कई राज्य बारिश से अछूते कहे जा सकते हैं। विशेष तौर पर दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, पंजाब एवं चंडीगढ़ में बारिश का संकट देखा जा रहा है। हालांकि मौसम विभाग ने कहा था कि इस बार मानसून चार दिन पहले आ गया था। लेकिन इसके बावजूद दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ़ व राजस्थान में बारिश काफी कम हुई है। इसके चलते लोगों को उमस भरी गर्मी में झुलसने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।

  • फुहार भरी बारिश से मौसम हुआ सुहाना-

मौसम विभाग ने बीते वीरवार को कहा था कि शुक्रवार से दिल्ली-एनसीआर व हरियाणा में हल्की फुल्की बारिश हो सकती है। विभाग के अनुसार शुक्रवार को दिल्ली व आसपास के इलाकों में फुहार भरी थोडी सी बारिश से मौसम सुहाना तो हुआ, मगर उम्मीद अनुसार बारिश नहीं हुई। मौसम विभाग का कहना है कि 20 जुलाई तक मौसम में तापमान कम रहेगा और हल्की फुल्की बारिश से ही लोगों को संतोष करना पड़ेगा। लेकिन 20 जुलाई के बाद दिल्ली, एनसीआर व हरियाणा सहित आसपास के राज्यों में भारी बारिश की संभावना है। वहीं महाराष्ट्र, बिहार, आसाम में बारिश के चलते भारी तबाही व बाढ़ ने लोगों को जीना मुश्किल कर दिया है। जबकि दिल्ली, एनसीआर, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान व चंडीगढ़ में अभी तक बारिश के लिए लोग तरस गए हैं।

  • मौसम विभाग का नया अलर्ट-

मौसम विभाग ने अब कहा है कि इन सभी राज्यों में भारी बारिश के आसार पैदा हो गए हैं। टर्फ रेखा का रूख देखते हुए इन राज्यों के लिए अलर्ट जारी किया गया है। विभाग का कहना है कि सौराष्ट्र, कच्छ, अरूणाचल, असम, मेघालय, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश पूर्वी राजस्थान, उप हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, गुजरात, मध्य महाराष्ट, कोंकण, गोवा, तेलंगाना, तटीय कर्नाटक और केरल सहित पंजाब, हरियाणा चंडीगढ़, दिल्ली-एनसीआर में भारी बारिश आने की पूरी संभावना है।

  • यूपी में शुक्रवार को बारिश का अनुमान-

मौसम विभाग ने कहा है कि उत्तर प्रदेश के कुछ स्थानों पर शुक्रवार को बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग ने सुबह के समय यह पूर्वानुमान जारी किया है। मौसम विभाग ने टवीट के जरिए बताया है कि शाम तक बुलंदशहर, खुर्जा, ग्रेटर नोएडा, गुलावटी, सियाना और नरौरा सहित आसपास लगते इलाकों में बारिश होगी। मौसम की जानकारी देने वाली संस्था स्काईमेट ने देश में बने मौसमी सिस्टम के संदर्भ में बताया कि मानसून की अक्षीय रेखा इस समय जेसमेलर, अजमेर, गवालियर, सतना, डाल्टनगंज, दीघा होते हुए बंगाल की खाड़ी के उत्तरी हिस्से तक बनी हुई है। दक्षिणी उत्तर प्रदेश में भी चक्रवाती सिस्टम बना हुआ है। जिसके चलते इन राज्यों में अच्छी बारिश होने की संभावना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here