शहरों में बंद रहेंगे मगर हरियाणा के सभी गांवों में अगस्त से खुल जाएंगे सरकारी स्कूल

0

Chandigarh News (citymail news ) एक ओर सूबे में कोरोना का प्रकोप बढऩे लगा है, तो वहीं दूसरी ओर सरकार द्वारा हरियाणा के ग्रामीण इलाकों में सरकारी स्कूल खोलने पर विचार कर रही है। शिक्षा विभाग का मानना है कि बच्चों की पढ़ाई काफी अधिक प्रभावित हो चुकी है, इसलिए ग्रामीण क्षेत्रों में बच्चों के स्कूल खोले जा सकते हैं। हालांकि सरकार के इस फैसले पर अधिकारी सहमति नहीं जता रहे हैं। मगर राज्य के शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर ने निर्देश दिए हैं कि अगस्त महीने से ग्रामीण इलाकों में स्कूलों को खोल दिया जाए। शिक्षा मंत्री के आदेश पर शिक्षा विभाग के अधिकारी मंथन में जुट गए हैं। वह पूरी तैयारी कर रहे हैं कि स्कूल खोलने के दौरान बच्चों को कोरोना से बचाने के लिए किस तरह की ठोस रणनीति को अमल में लाया जाए।

  • मास्क व सोशल डिस्टेंस होगा अनिवार्य-

माना जा रहा है कि गांवों में स्कूल खोलने के दौरान बच्चों के लिए फेस मास्क के साथ साथ सोशल डिस्टेंस व सेनीटाईजर को अनिवार्य किया जाने की योजना पर भी काम किए जाने की सूचना है। बताया गया है कि इन स्कूलों को सुबह व शाम के समय खोलने की योजना है, लेकिन इसके लिए हरियाणा सरकार को पहले केंद्र सरकार से अनुमति लेनी होगी। इसके लिए जरूरी औपचारिकता अमल में लाई जा रही है।

  • शिक्षा मंत्री ने शहरों के बारे में कहा-

शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर ने कहा कि शहरों में स्कूल खोलने में अभी रिस्क है। लेकिन स्कूल ना जाकर बच्चों को ऑनलाईन प्रणाली से पढ़ाई करवाई जा रही है। मगर अब इसके समय में बदलाव करने की हिदायत दी जा रही हैं। ऑनलाईन तरीके से पढ़ाने का समय कम किया जाएगा तथा पाठयक्रम को भी पहले के मुकाबले कम किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि प्राईवेट स्कूलों को खोलने में दिक्कत यह है कि वहां पढऩे वाले बच्चे दूर दूर से आते हैं, जोकि भारी समस्या है। जहां तक ऑनलाईन शिक्षा की बात है तो इससे बच्चों के विकास पर निगेटिव असर पढऩे की बात सामने आ रही हैं। इसलिए सरकार इसका कोई ऐसा विकल्प तलाश रही है कि बच्चों की पढ़ाई भी होती रहे और उनके विकास पर गलत प्रभाव भी ना पड़े। उनकी आंखों पर भी गलत प्रभाव पड़ रहा है, बच्चों की दिनचर्या भी पूरी तरहसे बिगडऩे लगी है। इसलिए वह ऑनलाईन क्लास के टाईम को कम करने पर विचार कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here