फरीदाबाद के 4 सरकारी स्कूल दयालपुर , अनंगपुर, तिगांव और गौछी को बनाया जा रहा है नया

0

Faridabad News (citymail news ) ऑल इंडिया पेरेंट्स एसोसिएशन (आईपा) द्वारा पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट में फरीदाबाद व पलवल के केई सरकारी स्कूलों की जर्जर व कंडम हो चुकी बिल्डिंग व कमरों को नया बनाने के लिए दायर की गई याचिका का असर दिखाई देना शुरू हो गया है। फरीदाबाद के 4 सरकारी स्कूल दयालपुर , अनंगपुर, तिगांव और गौछी में नए कमरों को बनाने का कार्य शुरू हो गया है। जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय की एस एस शाखा ने अनंगपुर में बाउंड्री व कंडम कमरों को हटाने व अन्य तीन स्कूलों में खाली पड़े स्थान पर नए कमरों का निर्माण करने के लिए नाप तोल शुरू कर दी है ।आईपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश शर्मा ने इस  कार्य को कराने के लिए आईपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व उच्चतम न्यायालय के वरिष्ठ एडवोकेट अशोक अग्रवाल का आभार प्रकट किया है। जिन्होंने पहले इस कार्य के लिए हरियाणा सरकार को लिखा, कार्रवाई न होने पर हाईकोर्ट का सहारा लिया जिसके चलते ही यह कार्य शुरू हुआ है।

कैलाश शर्मा ने बताया कि आइपा की ओर से पलवल सहित प्रदेश के अन्य 11 जिलों में भी 100 से ज्यादा सरकारी स्कूलों की बिल्डिंग व कमरों को कंडम व जर्जर घोषित करवाया गया है। अशोक अग्रवाल ने इनकी जगह नई बिल्डिंग व कमरे बनाने के लिए सरकार को पत्र लिखा है। अगर सरकार ने कोई उचित कार्रवाई नहीं की तो हाईकोर्ट में दायर याचिका की अगली तारीख पर इन स्कूलों का भी उद्धार कराने के लिए अपील की जाएगी। कैलाश शर्मा ने बताया कि अतिरिक्त मुख्य सचिव शिक्षा महावीर सिंह ने फरीदाबाद के दो स्कूल इंदिरा नगर व प्रेस कॉलोनी को तुरंत दूसरी जगह शिफ्ट करने व बड़खल गांव स्कूल में 16 लाख रुपए के बजट से सिविल कार्य एक महीने के अंदर कराने के लिए जिला शिक्षा अधिकारी को अधिकृत किया गया था लेकिन 8 महीने बाद भी डीईओ ने इस कार्य को पूरा नहीं किया है। आईपा ने इसकी शिकायत अतिरिक्त मुख्य सचिव शिक्षा से की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here