नाकाम सरकार, साफ पानी पीने के लिए भी करने पड़ते हैं हजारों रुपए खर्च

0

Faridabad News (citymail news ) समाजसेवी एडवोकेट राजेश खटाना ने यंग फॉर इंडिया के बैनर तले  स्वच्छ जल हमारी मांग अभियान की शुरुआत कर दी। इसके तहत फरीदाबाद के आमजन के लिए स्वच्छ जल की शासन प्रशासन से मांग की जाएगी। उन्होंने कहा कि आज सात आठ हजार रुपये महीना कमाने वाला व्यक्ति भी पीने के पानी पर एक से दो हजार रुपये खर्च करने के लिए मजबूर है। यह बहुत निराशाजनक स्थिति है।  इस अवसर पर आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में एडवोकेट राजेश खटाना ने बताया कि फरीदाबाद में स्वच्छ जल एक बड़ी और पुरानी समस्या है, लेकिन इस कोरोना काल में यह और बढ़ गई है। गर्मी और कोरोना दोनों ने पानी के रेट और उसकी उपलब्धता पर भी प्रभाव डाला है। इस अवसर पर यंग फॉर इंडिया के स्वच्छ जल हमारी मांग अभियान के समर्थन में नंदकिशोर ठाकुर, गुलशन कुमार, अरविंद कौशिक, चरण सिंह आदि भी प्रमुखता से मौजूद रहे। आज एक आम आदमी के लिए पीने का स्वच्छ जल सपना ही है। कॉलोनियों और स्लम क्षेत्रों में पानी उपलब्ध ही नहीं है। उन्होंने बताया कि यंग फॉर इंडिया के माध्यम से चलाए जाने वाला यह अभियान पूरी तरह से गैर राजनैतिक होगा।

अभियान के तहत सोमवार को नगर निगम के तीनों जोनों के जांइट कमिश्नर को एक मांग पत्र सौंपा जाएगा, जिसमें पानी की सही व्यवस्था होने तक कॉलोनियों और स्लम क्षेत्रों में वाटर एटीएम की व्यवस्था करने की मांग की जाएगी। इसके बाद नगर निगम के सभी 40 पार्षदों और पांचों विधायकों सहित केंद्रीय राज्यमंत्री को भी ज्ञापन सौंपा जाएगा। एडवोकेट राजेश खटाना ने बताया कि हम सोशल मीडिया के विभिन्न माध्यमों एवं मीडिया के जरिए भी लोगों के साथ पानी की समस्या को लेकर संवाद करेंगे और स्वच्छ जल हमारी मांग को हर उस स्तर तक ले जाएंगे, जहां से हमें इसका हल मिल सकता है। खटाना ने बताया कि संपन्न व्यक्ति फिर भी पानी का इंतजाम कर लेता है लेकिन गरीब आदमी के लिए पानी स्टेटस सिंबल न बन जाए, इसके लिए हम संघर्ष के लिए उतर रहे हैं। जिसको किसी भी प्रकार से राजनीति के चश्मे से नहीं देखा जाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here