फरीदाबाद से फरार यूपी का गैंगस्टर विकास दुबे उज्जैन में कैसे हुआ गिरफ्तार

0

यूपी के ईनामी गैंगस्टर को आखिरकार उज्जैन मध्यप्रदेश से गिरफ्तार कर लिया गया है। विकास दुबे ने पहले उज्जैन में बाबा महाकाल के दर्शन किए और उसके बाद एमपी पुलिस के समक्ष समर्पण कर दिया। विकास दुबे पिछले पांच दिनों से यूपी पुलिस से फरार चल रहा था। इस दौरान वह फरीदाबाद में अपने रिश्तेदारों के घर भी रहा। कई दिनों तक फरीदाबाद में रहने के बाद मंगलवार दोपहर को वह वहां से भी फरार हो गया था। हालांकि उसका एक गुर्गा प्रभात फरीदाबाद पुलिस के हत्थे चढ गया था। जिसे ट्रांजिट रिमांड पर यूपी पुलिस अपने साथ ले गई है।

फरीदाबाद से भागकर पहुंचा उज्जैन-

इसके अलावा उसका एक अन्य साथी अमर भी एक दिन फरीदाबाद में रहा और उसके बाद वहां से चला गया। यूपी पुलिस ने अमर को मुठभेड में मार गिराया है। जबकि दूसरी ओर विकास दुबे फरीदाबाद से फरार होने में सफल रहा था। बताया गया है कि फरीदाबाद से जाने के बाद विकास दुबे अपने सर्मपण के जुगाड़ में लगा हुआ था। माना जा रहा है कि इसके लिए उसने मध्यप्रदेश को चुना और उज्जैन पुलिस के हाथों गिरफतार हो गया। बता दें कि विकास दुबे ने कानपुर के बिकरू गांव में 8 पुलिस वालों की हत्या कर दी थी। इस बड़े हत्याकांड को अंजाम देकर वह बिकरू से फरार हो गया। दूसरी ओर यूपी पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी को लेकर रात दिन एक किया हुआ था। उसकी गिरफ्तारी पर ईनाम की राशि 25 हजार से बढ़ाकर पांच लाख रुपए कर दी थी। इसके बाद भी वह यूपी पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ पाया।।

बिकरू से कैसे पहुंचे फरीदाबाद-

विकास के गुर्गे प्रभात ने फरीदाबाद पुलिस को बताया कि वह बिकरू से फरार होने के बाद आगरा व मथुरा के रास्ते सीधे फरीदाबाद पहुंचे थे। मंगलवार तक वह फरीदाबाद में ही ठहरे थे। इसके बाद विकास दुबे फरीदाबाद को छोडक़र फरार हो गया था। माना जा रहा है कि विकास को पुलिस की कार्रवाई की भनक लग गई थी। इसलिए वह पुलिस की छापेमारी से मात्र आधा घंटा पहले ही फरीदाबाद से फरार हो गया था। इस मामले को लेकर फरीदाबाद पुलिस कमिश्नर ने एसीपी क्राईम अनिल कुमार को जांच सौंप दी है। पुलिस कमिश्नर के अनुसार वह जांच में यह देखना चाहते हैं कि कहीं फरीदाबाद पुलिस से तो उसे छापेमारी की जानकारी नहीं मिली थी। वहीं उज्जैन में गिरफ्तारी के बाद मध्यप्रदेश पुलिस उससे जरूरी पूछताछ कर रही है। माना जा रहा है कि अदालती व कानूनी कार्रवाई के बाद विकास दुबे को कानपुर पुलिस के हवाले कर दिया जाएगा। जहां उसने 8 पुलिस वालों के हत्याकांड को अंजाम दिया था

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here