फरीदाबाद में 51सौ पार हुआ कोरोना, खतरनाक स्टेज देखकर बनाए जा रहे हैं कोविड सेंटर

0
- Advertisement -

Faridabad News (citymail news ) फरीदाबाद में कोरोना का ग्राफ हर रोज तेजी से बढ़ रहा है। जिले में यह संख्या 5 हजार को पार कर चुकी है, वहीं मौतों का आंकड़ा भी सौ को छूने वाला है। हालांकि बात यदि बिना सरकारी रिकार्ड की हो तो मौतों का आंकड़ा करीब 125 से भी अधिक पहुंच चुका है। लेकिन सरकारी रिकार्ड में यह आंकड़ा 98 दर्ज किया गया है। वीरवार को जिले में 182 केस सामने आए हैं। इस सभी को मिलाकर कोरोना पॉजीटिव का कुल आंकड़ा 5105 पर पहुंच गया है। वहीं होम आईसोलेशन पर कोरोना मरीजों की संख्या 34 हजार से भी अधिक पर पहुंच गई है। जबकि स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि 5100 मरीजों को छुटटी देकर घर भेज दिया गया है, जबकि अस्पताल में ईलाज करवाने वालों की संख्या 525 रह गई है।

क्यों बनाए जा रहे कोविड सेंटर-

लेकिन इसमें भी एक बड़ा पेंच यह है कि एक ओर प्रशासन लगातार कोरोना मरीजों के लिए ईलाज हेतु कोविड सेंटरों की संख्या बढ़ा रहा है, वहीं दूसरी ओर स्वास्थ्य विभाग दावा कर रहा है कि जिले में कोरोना की स्थिति में काफी अधिक सुधार हो चुका है। सवाल यह है कि जब कोरोना की स्थिति में सुधार है तो नए व ताबड़तोड़ कोविड सेंटर बनाने की आवश्यकता क्या है। इस स्थिति पर प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की कार्यप्रणाली लोगों के गले नहीं उतर रही। इसका सीधा सा मतलब यह भी निकाला जा सकता है कि स्वास्थ्य विभाग कोरोना के मामले छुपा रहा है। ताकि सरकार में फरीदाबाद की बिगड़ती स्थिति को बेहतर दिखाया जा सके। जबकि दूसरी ओर लगातार कोविड सेंटर बनाए जा रहे हैं। इससे सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि स्वास्थ्य विभाग कोरोना के आंकड़ों से खिलवाड़ कर रहा है।

TRENING -: फरीदाबाद की बड़ी घटना, दुकान मालिक को कोरोना और लग गई शोरूम में भयंकर आग

अनेक भवनों को प्रशासन ने कब्जे में लिया-

बता दें कि बीते बुधवार को भी जिला प्रशासन ने कोविड सेंटर के लिए निजी भवनों को अपने अधिकार क्षेत्र में लेने के आदेश जारी किए हैं। करीब एक दर्जन से भी अधिक प्राईवेट भवनों में कोविड सेंटर बनाने की तैयारी की जा रही है। इससे पूरी तरह से अंदाजा लगाया जा रहा है कि जिले में कोविड की स्थिति जितनी सहज दिखाई जा रही है, उतनी है नहीं। हैरत की बात तो यह है कि कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या भी कथित तौर पर छुपाई जा रही है। मीडिया ने कई बार इस मामले को उठाया भी है। स्वास्थ्य विभाग जितनी मौतों की घोषणा कर रहा है, उससे कहीं अधिक नगर निगम द्वारा कोविड नियमों के अंतर्गत दाह संस्कार किया जा रहा है। मतलब साफ है कि फरीदाबाद में कोरोना को लेकर स्वास्थ्य विभाग द्वारा बड़े पैमाने पर खिलवाड़ किया जा रहा है और आंकड़ों की कलाकारी की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here