फरीदाबाद की बड़ी घटना, दुकान मालिक को कोरोना और लग गई शोरूम में भयंकर आग

0

Faridabad News (citymail news ) फरीदाबाद के सबसे बड़े बाजार एनआईटी नंबर-1 में स्थित एक कपड़े की दुकान में भयंकर आग लग गई। आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है। दुकान में आग लगने की वजह से काफी अधिक नुक्सान होने की खबर है। बता दें कि प्रेम साड़ी हाऊस के नाम से अनूप अरोड़ा की एनआइटी नंबर 1 की पतली गलियों के बीच शोरूम है। दो साईड की दुकान का बैक साईड मित्तल डेंटल क्लीनिक के साथ लगता है। जबकि फ्रंट साईड का हिस्सा पंजाबी स्वीटस व नौनिहाल इंपोरियम के सामने से मिलता है। बताया गया है कि दोपहर करीब 2 बजे के आसपास दुकान की दूसरी मंजिल पर धुंआ उठता दिखाई दिया। यह तीन मंजिला शोरूम है, जिसमें नीचे के दो फ्लोर में साडिय़ों का काम होता है तो तीसरी मंजिल पर ब्राईडल ( मैरिज का सामान)का काम होता है। जिस समय घटना हुई, उस समय दुकान पर काम करने वाले कर्मचारी ही थे। बताया गया है कि धीरे धीरे दुकान में धुंआ उठता देखकर कर्मचारियों ने पहले अपने स्तर पर आग बुझाने का काम किया। लेकिन आग बुझने की बजाए बढ़ गई और दुकान से आग की लपटें उठने लगीं।

इस तरह आग बुझाने पहुंची फायर बिग्रेड-

मालिक अनूप चोपड़ा ने शोरूम में आग लगने की जानकारी मार्केट एसोसिएशन के प्रधान अजय नौनिहाल को दी। अजय नौनिहाल ने थाना कोतवाली प्रभारी को इस घटना से अवगत करवाया। पुलिस प्रभारी ने दमकल विभाग को मौके पर पहुंचने के लिए कहा। मात्र 10 से15 मिनट के भीतर ही पुलिस व दमकल विभाग की गाडिय़ां आग बुझाने के लिए पहुंच गई। मगर आग बुझाने के काम में दिक्क्त यह हुई कि वहां गलियां बहुत छोटी और तंग हैं, जिस वजह से फायर बिग्रेड की गाडिय़ां सीधे दुकान पर नहीं पहुंच पाई। इसलिए आग बुझाने के लिए वाहनों को मित्तल डेंटल क्लीनिक की तरफ खड़ा किया गया और प्रेम साड़ी सेंटर के सामने एक दुकान में घुसकर आग बुझाने का काम करना पड़ा। आग दुकान की दूसरी मंजिल पर लगी थी, इसलिए सामने की दुकान पर दमकल कर्मियों ने चढक़र भारी मशक्कत के बीच आग पर काबू पाया। काफी देर तक कोशिश करने के बाद ही आग पर काबू पाया जा सका। मगर तब तक दुकान के दूसरे फ्लोर पर रखा सारा सामान जलकर खाक हो गया। बताया गया है कि करीब 25 लाख रुपए का नुक्सान होने की संभावना है।

दुकान मालिक के परिवार को है कोरोना-

कहते हैं कि जब मुसीबत साथ आती है तो वह अकेले नहीं आती। यही कहावत प्रेम साड़ी सेंटर के मालिकों पर भी चरितार्थ होती दिखाई दी। प्रेम साड़ी सेंटर के मालिक व उनके परिवार के कई सदस्य कोरोना पॉजीटिव हैं। वह होम आइसोलेट होकर अपना ईलाज करवा रहे हैं। इसलिए पिछले काफी समय पर वह दुकान पर नहीं जा रहे थे और उनके कर्मचारी व कुछ रिश्तेदारों के सहयोग से दुकान चलाई जा रही थी। यह दुकान शहर की फेमस साड़ी हाऊस के तौर पर जानी जाती है। पंरतु दोपहर को अचानक आग लगने से दुकान मालिकों के लिए स्थिति बड़ी परेशानी भरी हो गई। एक तरफ कोरोना की बीमारी गले में पड़ी हुई थी तो दूसरी ओर दुकान में आग लग गई। आग लगने के बाद इस परिवार के साथ यह बड़ी व दोहरी मार साबित हुई। किसी तरह से आग पर तो काबू पा लिया गया, मगर इस लॉकडाऊन के बाद मंदी के दौरान लाखों के नुक्सान ने इस परिवार को बड़ा झटका दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here