टीचर से रेप कांड में फंसा करनाल का एक बड़ा स्कूल मालिक, 3 पर FIR

0

Karnal News (citymail news ) करनाल में एक नामी स्कूल मालिक पर उसके स्कूल में ही काम करने वाली टीचर ने रेप का आरोप लगाय है। इस महिला टीचर ने स्कूल के मालिक पर तो आरोप लगाया ही है, साथ ही ये भी कहा है कि वह अपने एक दोस्त व तहसील विभाग के बड़े अधिकारी को भी खुश करने के लिए प्रेशर बना रहा था। यह मामला करनाल के एक बड़े स्कूल मालिक से जुड़ा है, इसलिए पूरे प्रदेश में इसकी चर्चा जोरों पर है। स्कूल मालिक ही नहीं बल्कि तहसील विभाग का बड़ा अधिकारी भी इस कांड में फंस गया है। हालांकि पुलिस ने इस मामले के उछलते ही स्कूल मालिक सहित तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। बता दें कि करनाल मुख्यमंत्री मनोहर लाल का गृहक्षेत्र होने की वजह से भी यह मामला मीडिया की सुर्खियों में आ गया है।

महिला टीचर ने एसपी को दी शिकायत-

पीडि़त टीचर ने अपने साथ घटित पूरे मामले की लिखित शिकायत करनाल के एसपी सुरेंद्र सिंह भैरिया को दी है। इस शिकायत में कहा गया है कि वह करनाल के एक बड़े स्कूल में टीचर के तौर पर कायर्रत है। इस स्कूल में तरक्की पाने के लिए स्कूल की एक बड़ी पदाधिकारी ने उसे मालिक के घर भेजा था। वह उसके झांसे में आकर स्कूल मालिक के घर चली गई, वहां स्कूल मालिक ने उसे तरक्की का लालच देते हुए उसके साथ छेड़छाड़ की। स्कूल मालिक की हरकत देखकर वहां से किसी तरह से भाग निकली। पीडि़ता के अनुसार इस घटना पर वह चुप रही,जिससे स्कूल मालिक के हौंसले बढ़ गए। उसने फिर से किसी काम के सिलसिले में उसे अपने घर पर बुलाया। वहां आरोपी ने उसके साथ जबरन रेप किया।

तहसील अधिकारी को खुश करने के लिए कहा-

पीडि़त टीचर ने बताया कि स्कूल मालिक ने फिर से उसे बुलाया और लालच देते हुए तहसील विभाग के एक बड़े अधिकारी से भी संबंध बनाने के लिए कहा। इसकी एवज मे स्कूल मालिक ने कहा कि वह उस अधिकारी को खुश कर देगी तो उसे स्कूल में बड़ी प्रमोशन देते हुए उसके बच्चों को भी सैट कर देगा। लेकिन वह उसके झांसे में नहीं आई और उसने शोर मचा दिया और पुलिस को बुला लिया। हालांकि स्कूल के स्टॉफ ने उसे चुप रहने के लिए धमकाया भी और उस पर ब्लैकमेलिंग करने का आरोप लगा दिया। पीडि़ता ने बताया कि उसने पुलिस को शिकायत दी हुई है, मगर फिर भी उस पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही । उसे अपनी शिकायत वापिस लेने के लिए धमकियां मिल रही हैं। वह इस घटना के बाद से मानसिक रूप से परेशान हो चुकी है। लेकिन बाद में जैसे ही यह मामला मीडिया में उछला तो पीडि़ता ने अपने पति के साथ जाकर एसपी को शिकायत दी।

स्कूल मालिक व अधिकारी ने खुद को बताया बेकसूर

वहीं दूसरी ओर स्कूल मालिक ने अपने बचाव में कहा है कि टीचर को नौकरी से निकाल दिया गया था। उसके बाद से ही वह उन्हें ब्लैकमेल कर रही है। वह जांच के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। वहीं तहसील के अधिकारी ने बताया कि उनका नाम बिना बात इस मामले में घसीटा जा रहा है। वह तो उस महिला को जानते भी नहीं हैं। उन पर बिना बात आरोप लगाए जा रहे हैं। फिलहाल यह मामला हाईप्रोफाईल होने की वजह से खासी सुर्खियों में है। इसलिए पुलिस भी हर मामले की बारीकी से जांच करने की बात कह रही है।एसपी ने इस मामले की जांच डीएसपी जगदीप दूहन को सौंप दी है। वहीं डीएसपी दून ने बताया कि पीडि़त महिला की शिकायत पर तीनों आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। इस मामले की बारीकी से जांच की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here