विधायक ने सुनसान सडक़ पर थर-थर कांप रहे 6 लोगों को इस तरह बचाया

0

Faridabad News (citymail news ) देर रात को जब सडक़ पर खड़े हुए लोगों को देखकर किसी अंजाने डर से सभी चुपचाप निकल जाते हैं, ऐसे में एक विधायक ने मुसीबत में पड़े लोगों की ना केवल मदद की, बल्कि उनकी जान भी बचाई। यह वाक्या बीती रात कुंडली-मानेसर एक्सप्रेस वे पर घटित हुआ। दरअसल केजीपी मार्ग पर सडक़ हादसे मेें एक परिवार बेबस व डरा सहमा हुआ खड़ा था। परिवार के 6 लोग सडक़ हादसे में घायल थे। तभी वहां से हरियाणा के सोहना से विधायक संजय सिंह जा रहे थे। उन्होंने इस परिवार को खून से लथपथ बेहाली की स्थिति में खड़ा देखा तो संजय सिंह ने एंबुलेंस बुलाकर सभी को अस्पताल पहुंचाया उन्हें वहां दाखिल करवाकर उनकी जान बचाई।

जानकारी के अनुसार इस परिवार के तीन लोग गंभीर अवस्था में थे तथा बाकि लोग ठीक थे। सोहना के विधायक संजय सिंह रात को करीब 11 बजे मेरठ से केजीपी के रास्ते अपने घर गुरूग्राम जा रहे थे। मोहना-छायसां के नजदीक फरीदाबाद की सीमा में उन्हें एक कार पलटी हुई स्थिति में दिखाई दी। विधायक ने तुरंत अपनी गाड़ी रूकवाकर अपने बॉडी गार्ड को भेजकर पूरी स्थिति की जानकारी ली। उन्होंने परिवार के लोगों को बदतर हालत में पाया और तुंरत एंबुलेंस को फोन कर सभी को अस्पताल पहुंचाया। घायल परिवार उत्तर प्रदेश से आया था और राजस्थान की ओर जा रहा था। तभी उनकी कार का संतुलन अचानक बिगड़ गया और वह दुघर्टनाग्रस्त हो गए। विधायक ने मानवता के नाते रात को उस समय घायल परिवार की मदद करी, जब लोग डर के मारे चुपचाप निकल जाने में ही अपनी भलाई समझते हैं।

इस तरह से विधायक ने अपना कर्तव्य निभाते हुए पीडि़त लोगों की मदद कर उनकी जान बचाने में पूरी मेहनत की। पीडि़त परिवार ने भी विधायक का आभार जताया और कहा कि यदि वह उनकी मदद ना करते तो वह बुरी हालत में ही रात भर घूमते रहते। हालांकि यह भी किसी से छुपा नहीं है कि रात के समय ऐसे सुनसान रास्ते पर अपराधिक तत्व मौके का लाभ उठाकर लोगों को लूटते हैं, इसलिए राहगीर डर के मारे किसी की मदद नहीं करते। जिसका खामियाजा उन लोगों को भुगतना पड़ता है, जिन्हें असल में मदद की जरूरत होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here