गुरूग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, रोहतक, भिवानी व पानीपत में विस्फोटक है कोरोना की स्थिति

0

हरियाणा के तमाम जिले कोरोना की जद में तेजी से आने लगे हैं। राज्य में वैसे तो सभी जिलों में कोरोना के केस तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। मगर इनमें भी गुरूग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, रोहतक तथा पानीपत सहित अधिकांश जिलों में हर रोज कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है। गुरूग्राम की बात करें तो मंगलवार को वहां 125 और फरीदाबाद में 122 नए कोरोना पॉजीटिव सामने आए हैं। इनके साथ साथ पानीपत में 22 और सोनीपत में 29 नए केस आए हैं।

इसी तरह से भिवानी में भी कोरोना की रफ्तार तेज गति से चल रही है। भिवानी में 45 कोरोना सक्रंमितों के पॉजीटिव केस आए हैं। इसी प्रकार से झज्जर में 27, जींद में 14, रोहतक में 12, हिसार व रेवाड़ी में 10-10 नए केस आने से वहां कोरोना पॉजीटिव की संख्या में विस्तार हो रहा है। वहीं नारनौल में 25 केस आने से दक्षिण हरियाणा की धरती पर भी कोरोना के केस लगतार बढ़ रहे हैं। कुरूक्षेत्र में भी 21 केस आए हैं, जबकि कुछ समय पहले तक वहां कोरोना की रफ्तार बहुत धीमे से चल रही थी। पलवल में 15 केस आए हैं तो यमुनानगर में 9 तो अंबाला व सिरसा में 3-3 केस आए हैं। इसी प्रकार से मेवात के नूंह में भी कोरोना के केस सामने आ रहे हैं। नूंह में 2 तथा पंचकूला में मंगलवार को मात्र 1 केस आया है। इसी प्रकार से राज्य भर में कोरोना की गति बढऩे लगी है।

सरकार का कहना है कि वह हर स्तर पर कोरोना को रोकने का प्रयास कर रहे हैं। फरीदाबाद जिले में तो यह स्थिति काफी अधिक विस्फोटक साबित हो रही है। फरीदाबाद में करीब 1500 से 2000 ऐसे भी लोग हैं, जोकि कोरोना टेस्ट के दौरान अपने घर का पता व फोन नंबर गलत देकर चले गए। अब उनकी रिपोर्ट पॉजीटिव आ रही है, जिससे स्वास्थ्य विभाग की परेशानी बढ़ गई है। यह लोग जहां भी जाएंगे, वहां कोरोना का विस्तार अवश्य करेंगे। गुरूग्राम में भी कोरोना की स्थिति बहुत अच्छी नहीं है। कहने को तो वहां ठीक होने वालों की संख्या बढ़ रही है, मगर हर रोज नए केस भी आ रहे हैं, जिनकी रोकथाम नहीं हो पा रही है। राज्य के बाकि जिले भी इससे अछूते नहीं हैं। वहीं राज्य सरकार ने कहा कि वह टैस्ट की संख्या बढ़ा रहे हैं, ताकि जल्द से जल्द सभी लोगों की रिपोर्ट आ जाए। हालांकि अब राज्य में कोविड सेंटर की स्थिति भी बदहाल होने लगी है। प्रदेश में 3 मरीजों की कोरोना से मौत हो गई। अब कुल 4 हजार 75 एक्टिव मरीज मौजूद हैं। 71 की हालत नाजुक बनी हुई है, इनमें से 47 अॉक्सीजन पर तो 24 वेंटीलेटर पर सांस ले रहे हैं। राहत की बात ये है कि मंगलवार को 310 मरीज ठीक हो गए। अब तक कुल 13 हजार 645 मरीज डिस्चार्ज हो चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here