नगर निगम फरीदाबाद में नौसखिए जूनियर इंजीनियरों को मैदान में उतारा

0
- Advertisement -

Faridabad News (citymail news ) फरीदाबाद नगर निगम ने हाल ही में नई नियुक्ति के तौर पर भर्ती किए गए जूनियर इंजीनियरों को उनके क्षेत्र व काम का बंटवारा किया गया है। निगम प्रशासन ने इन जूनियर इंजीनियरों को बताया है कि उन्हें अपने इलाके में क्या काम करना होगा। बता दें कि हाल ही में राज्य सरकार ने बड़े पैमाने पर जूनियर इंजीनियरों को भर्ती किया है। इसके अंतर्गत फरीदाबाद नगर निगम को भी करीब दो दर्जन इंजीनियर दिए गए हैं। यह जूनियर इंजीनियर अपने वार्ड वाईज इलाकों में पानी, सीवर, टयूबवेल, पार्क की बिजली, स्ट्रीट लाईट जैसी समस्याओं का समाधान करेंगे। हालांकि अभी तक इन नए जूनियर इंजीनियरों को काम का अनुभव नहीं है। मगर इसके बावजूद उन्हें बिना किसी प्रकार का प्रशिक्षण दिए फील्ड में उतार दिया गया है। इन जूनियर इंजीनियरों को काम सिखाए बिना ही अपने क्षेत्र में जनसुविधाओं के लिए माथापच्ची करते हुए लोगों की शिकायतों को सुनना होगा। बता दें कि नगर निगम फरीदाबाद में अधिकारियों के बीच आपसी राजनीति चरम सीमा पर है। यहां चहेते अफसरों को ही सारी मलाई खाने की छूट दी जाती है, बशर्ते मलाई का हिस्सा मक्खन के तौर पर वह अपने उच्च अधिकारी को भी देगा। नगर निगम में यह परंपरा सालों से चली आ रही है। करोड़ों रुपए का फर्जीवाड़ा हो जाता है और किसी को भनक तक नहीं लगती। यह फर्जीवाड़ा शुरू होता जूनियर इंजीनियर की पहली कलम से। क्योंकि किसी भी काम का बिल बनाने की शुरूआत जूनियर इंजीनियर द्वारा की जाती है। यदि निगम में उच्च स्तरीय जांच हो जाए तो पता चल जाएगा कि वहां किस प्रकार का गोलमाल होता है। फिलहाल नए जूनियर इंजीनियरों को अभी कुछ पता नहीं है, मगर जल्द ही वह भी इस काम में मास्टर हो जाएंगे। कारण भी साफ है कि जब बड़े अधिकारियों के मुंह पर खून लगा हो तो छोटे अधिकारियों को उनके लिए शिकार का इंतजाम करना ही होता है।
इस खबर के साथ अटैच है पूरी लिस्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here