फरीदाबाद में बारिश से मिली राहत, सफाई ना होने से शहर में लबालब भरा पानी

0
- Advertisement -

Faridabad News (citymail news ) मानसून से पहले नालों की सफाई पर करोड़ों रुपए खर्च करने के बावजूद जरा सी बारिश में शहर पानी से लबालब भर गया है। इससे साबित होता है कि नगर निगम की कार्यप्रणाली को लेकर हर बार सवालिया निशान लगते रहे हैं। शुक्रवार को दोपहर बाद हुई आधे घंटे की बारिश में ही शहर चारों ओर पानी से भर गया। निकासी ना होने की वजह से शहर की कालोनियों में तो बरसाती पानी घरों में घुस गया। जिससे लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। शुक्रवार को दोपहर बाद मानसून की बारिश का आगमन हुआ और आधे घंटे की बारिश ने ही शहरवासियों को हलकान कर दिया। चारों ओर पानी भर गया, जिससे लोग निगम प्रशासन को कोसते दिखाई दिए। बता दें कि नगर निगम हर साल बरसात से पहले शहर के नालों की सफाई का अभियान चलाता है। इसके लिए निगम ने करीब दो से ढाई करोड़ रूपए का बजट बनाया हुआ है। निगम के इंजीनियरिंग विभाग को मानसून से पहले हर बार निगम आयुक्त द्वारा सफाई के निर्देश जारी किए जाते हैं। प्रत्येक साल निगम द्वारा नालों की सफाई के नाम पर करोड़ों रुपए खर्च किए जाते हैं,मगर हर साल शहर में चारों ओर पानी भरने की स्थिति ज्यों की त्यों रहती है। इससे साफ पता चलता है कि नालों की सफाई का काम केवल कागजों में ही होता है। बल्लभगढ़ के पार्षद दीपक चौधरी ने भी निगम आयुक्त को पत्र सौंपकर मानसून से पहले नालों की सफाई का काम गंभीरता से व पहले के कामों की जांच करवाने की मांग की है। पार्षद दीपक चौधरी का कहना है कि इस काम में भारी पैमाने पर घपले की शिकायत आती है, मगर फिर भी इंजीनियरिंग विभाग के संबंधित अधिकारियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होती। दूसरी ओर भीषण गर्मी के बीच मानसून की बारिश से लोगों को राहत महसूस हो रही है। पिछले एक महीने से भी अधिक समय से लोग भीषण व उमस भरी गर्मी का सामना कर रहे हैं। मौसम विभाग ने पूर्वानुमान जताया था कि शुक्रवार से बारिश की शुरूआत हो सकती है। इसके तहत आज लोगों को भारी गर्मी से राहत महसूस हुई है। लेकिन राहत के साथ कई इलाकों में बरसाती पानी घरों व सडक़ों पर जमा होने से आफत भी महसूस हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here