फरीदाबाद में भगवान भरोसे कोरोना मरीज, क्या मौतों को छुपा रहा है स्वास्थ्य विभाग

0
Faridabad News (citymail news )  फरीदाबाद जिले में लगातार कोरोना का ग्राफ ऊपर की ओर जा रहा है। फरीदाबाद की चिंताजनक स्थिति को देखते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी प्रदेश सरकार को इस औद्योगिक शहर की ओर ध्यान देने के निर्देश दिए हैं। केंद्र के आदेश के बाद जल्द ही फरीदाबाद में टेस्टिंग की स्पीड बढ़ाई जा सकती है। शुक्रवार को जिले में 156 नए केस आने से स्वास्थ्य विभाग इतना परेशान हो उठा है कि वह अब नए मामलों को छुपाने की ओर ध्यान देने लगा है। चर्चा है कि फरीदाबाद की स्थिति को बेहतर दिखाने के लिए स्वास्थ्य विभाग पर लगातार कोरोना से होने वाली मौतों को छुपाने के आरोप लगाए जा रहे हैं। चर्चा है कि जिले में पिछले कुछ दिनों के भीतर ही 25 मौतें होने की खबर है, मगर स्वास्थ्य विभाग मात्र सात से आठ मौतें ही दिखा रहा है। लोगों में चर्चा है कि डबुआ कालोनी में एक ऑटो चालक लोगों को कोरोना बांटता रहा, मगर स्वास्थ्य विभाग ने उसकी ओर कोई ध्यान नहीं दिया। अब उसकी मौत होने की खबर आ रही है। जोकि बेहद खतरनाक स्थिति है। लोगों की लगातार शिकायत आ रही हैं कि उनके आसपास कोरोना के मरीज खुले घूम रहे हैं, प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग को शिकायत देने के बावजूद कोई सुनता नहीं। यही वजह है कि इस जिले में स्थिति लगातार विस्फोटक रूप लेती जा रही है। जिले में शुक्रवार को 156 नए केसों के साथ कुल 4182 लोग पॉजीटिव केस सामने आए हैं। शुक्रवार को चार लोगों की मौत की पुष्टि भी प्रशासन द्वारा की जा रही है। ये सभी मौतें सेहतपुर गांव, सही कंपलैक्स, मुजेसर व सैक्टर 23 में हुई हैं। वहीं दूसरी ओर स्वास्थ्य विभाग लगातार सुधार के दावे कर रहा है।
उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डा. रामभगत ने बताया कि जिला में अब तक 34169 यात्रियों को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 11622  लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 22460 लोग अंडर सर्विलांस हैं। कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 29987 होम आइसोलेशन पर हैं। अब तक 25864 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 21340 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 342  की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 4182 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 375 लोगों को  अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा 529 पॉजिटिव मरीजों को घर पर आइसोलेट किया गया है। इसी प्रकार ठीक होने के बाद 3174  मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब तक 87 मरीजों की मौत हो चुकी है। इसमें  84 मरीज क्रिटिकल हालत में अस्पताल में दाखिल किए गए हैं इसी के साथ 09 मरीजो को आईसीयू में रखा गया है । 135 ऐसे मरीज हैं जो 10 दिनों से ज्यादा से  अस्पताल में दाखिल हैं आज जिले में  156 नए केस  आए हैं जिसमें कोरोना के साथ-साथ अन्य विभिन्न बीमारियां भी कारण रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here