फरीदाबाद में शुक्रवार को लगा कोरोना का झटका, 194 नए पॉजीटिव, आंकड़ा 3132 पर

0

Faridabad News (citymail news ) कोरोना को लेकर फरीदाबाद में लगातार मौतों का सिलसिला बढ़ता जा रहा है। शुक्रवार को शहर में फिर से दो मौतें हुई हैं तथा 194 लोगों के सैंपल पॉजीटिव पाए गए हैं। इन सभी को मिलाकर आंकड़ा 3132 पर पहुंच गया है। जबकि वीरवार को जिले में तीन लोगों की मौत हुई थी और 143 लोग पॉजीटिव पाए गए थे। बीते चौबीस घंटों में पॉजीटिव की संख्या बढक़र 194 पर पहुँच गई है। जिन दो कोरोना पॉजीटिव की डेथ हुई है, उनमें से एक जवाहर कालोनी तथा दूसरे ओल्ड फरीदाबाद के रहने वाले थे। इन दोनों की आयु 56 और 70 वर्ष थी। इस तरह से फरीदाबाद में यह सिलसिला तेजी पकड़ता जा रहा है। जिले में हुडडा प्रशासक प्रदीप दहिया परिवार सहित सक्रंमित पाए गए हैं। इनके अलावा स्वास्थ्य विभाग के कई डाक्टर भी पॉजीटिव पाए गए हैं, जिन्हें ईलाज के लिए होम आईसोलेशन में भेज दिया गया है। फरीदाबाद में कोरोना के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। जिले में शुक्रवार को कोरोना सहित अन्य बीमारियों से होने वाली मौतों की संख्या 70 पर पहुंच गई है। बीते वीरवार को सैनिक कालोनी सैक्टर 49 में रहने वाले 70 वर्षीय बुजुर्ग, सैक्टर 24 निवासी 63 वर्षीय व्यक्ति एवं 21सी में रहने वाले 46 साल के व्यक्ति शामिल हैं। फरीदाबाद जिले में वीरवार की शाम तक 143 लोगों के सैंपल पॉजीटिव पाए गए हैं। वहीं स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि 15414 लोग सर्विलांस पर हैं। इनके अलावा 11599 से अधिक ऐसे भी लोग हैं, जोकि पॉजीटिव के संपर्क में आए हैं। इन सभी पर कड़ी निगाह रखी जा रही है तथा इन सभी के टेस्ट भी करवाए गए हैं। वहीं 25 हजार से भी अधिक लोगों को होम आईसोलेनशन में रहने की हिदायत दी गई है। 517 लोग कोविड सेंटर में अपना ईलाज करवा रहे हैं और 1518 लोगों को ठीक कर उनके घर भेज दिया गया है। बता दें कि जिले में तेज रफ्तार से कोरोना के पॉजीटिव केस बढ़ते जा रहे हैं। जिले में पुलिस, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी व कर्मचारी, नगर निगम के कर्मचारी, शिक्षा विभाग में कार्यरत लोग तेजी से एक से दूसरे के संपर्क में आने के बाद पॉजीटिव पाए जा रहे हैं। इससे लोगों में दहशत का माहौल बना हुआ है। वहीं अस्पताल में काम करने वाले कर्मचारियों के पॉजीटिव पाए जाने के बाद स्वास्थ्य सेवाओं में खासा असर पड़ा है। अस्पतालों में कार्यरत कर्मचारी भी बचकर काम कर रहे हैं, जिसका प्रभाव मरीजों पर पड़ रहा है। इसलिए स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि लोगों को इस बीमारी से बचने के लिए मास्क व सोशल डिस्टेंस का पालन करना होगा, नहीं तो यह समस्या तेज गति से हर स्थान पर प्रवेश करने में देर नहीं लगाएगी। बाजारों में बढ़ती भीड़ का कंट्रोल करना होगा, अन्यथा हर व्यक्ति में कोरोना का प्रवेश दिखाई देगा। बता दें कि लॉकडाऊन खुलने के बाद शहर के बाजारों में लोग छूट का जमकर लाभ उठा रहे हैं। बाजारों व सब्जी मंडी में बढ़ती भीड़ से साबित हो गया है कि लोगों में इस जानलेवा बीमारी के प्रति किसी तरह की सतर्कता नहीं है। वह आम दिनों की भांति बिना मास्क के घूमते हुए देखे जा सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here